अदरक के गुण अदरक के फ़ायदे

अदरक के गुण अदरक के फ़ायदे

भारत मे अदरक (Ginger) 5000 साल से भी ज्यादा से उपयोग किया जा रहा है। न यह सिर्फ पाक कला के लिए अद्भुत मसाला है अपितु इसके अनगिनत स्वास्थ्य के लिए भी फायदे हैं। आज यहां हम इसके तरह तरह के स्वस्थ फायदों और दुष्परिणामों की चर्चा करेंगे। साथ ही हम आपको इसके उपयोग और सही मात्रा में इसके उपयोग के बारे में बताएंगे।

Ginger in Hindi- अदरक क्या है?

अदरक एक ऐसा मसाला है जो ज़िंगिबर ऑफसनल नाम के पौधे की पपड़ी से मिलता है। भारतीय और एशियाई भोजन में स्वाद लाने के लिए इसका प्रयोग होता है। स्वास्थ्य के लिए भी इसके अनेक फायदे हैं, लेकिन ज्यादातर इसका प्रयोग जठरांत्र संबंधित मसलों में किया जाता है।

Properties of Ginger in Hindi- अदरक के गुण

  • एन्टी माइक्रोबियल
  • एन्टी ऑक्सीडेंट
  • एन्टी इंफ्लेमेटरी
  • दर्द से निजात
  • एन्टी वायरल
  • एन्टी फंगल

Benefits of Ginger in Hindi- अदरक के फ़ायदे

1. एन्टी इंफ्लेमेटरी गुण

अदरक अपने एन्टी इंफ्लेमेटरी गुणों की वजह से जोड़ों में आई सूजन के साथ सूजन से होने वाली अन्य बीमारियों से भी आराम दिलाता है। इसमें मौजूद एन्टी ऑक्सीडेंट्स  जोकि ताज़े खून को बढ़ाते हैं।

2. दर्द निवारक

अदरक एक प्रभावी दर्द निवारक माना जाता है। रोज़ाना 2 ग्रा. अदरक लेना मांसपेशियों के दर्द और शरीर के अन्य भागों के दर्द में आराम दिलाता है।

3. कैंसर से बचाव

अदरक कैंसर के सेल्स को बढ़ने से रोकता है। तथ्य बताते हैं कि अदरक ब्रैस्ट कैंसर के सेल्स के विकास को धीमा कर देता है।

4. उच्च रक्तचाप पर नियंत्रण

अदरक अपनी खून को पतला करने की योग्यता के कारण उच्च रक्तचाप को कम करता है। आप अदरक में कुछ बूंदें निम्बू के रस की मिलाकर पी सकते हैं।

5. पाचन में सहायक

अदरक भोजन को पेट से छोटी आंत में ले जाने की क्रिया को तेज कर देता है। पेट की अशुद्ध चीजों को साफ करता है साथ ही मोशन सिकनेस से पीड़ित लोगों की भी मदद करता है।

6. कोलेस्ट्रॉल कम करना

अदरक खून की रुकावट को हटाकर खून के प्रवाह को ठीक कर देता है। यह न केवल कोलेस्ट्रॉल को कम करता है बल्कि हृदय  के स्वास्थ्य को बढ़ाकर हार्ट अटैक से भी बचाता है।

7. सर्दी और जी मिचलाने की समस्या का समाधान

सर्दी- ज़ुकाम और जी मिचलाने की समस्या के लिए अदरक सबसे पुराना नुस्खा है। यह सर्दी के बैक्टीरिया को मारकर सर्दी से तुरंत राहत दिलाता है। गर्भ के शुरुआती दिनों में होने वाली मॉर्निंग सिकनेस की समस्या को अदरक एकदम ठीक कर देता है।

8. मुहांसों और त्वचा की बीमारियों के लिए

एन्टी इंफ्लेमेटरी गुणों के कारण कील मुहासों से अदरक की वजह से छुटकारा पाया जा सकता है।

9. बालों के लिए

अदरक का रस पीना बालों के लिए बहुत अच्छा है। आप बालों की जड़ों में भी अदरक के रस का उपयोग कर सकते हैं। बालों की जड़ों में खून के दौरे को तेज करने के साथ साथ यह कंडीशनर का भी काम करता है। इस सब की वजह से बालों के बढ़ने की गति तेज हो जाती है।

Ginger Usage in Hindi- अदरक के उपयोग

  • खाने का स्वाद बढ़ाना
  • पाचन सम्बधी समस्या और जी मिचलाने की समस्या का समाधान
  • दर्द निवारक
  • खराब वेट को आराम दिलाना
  • सूजन कम करना
  • मासिक धर्म के दौरान के दर्द को कम करना
  • आंतों की समस्या से बचाना
  • बेहद थकान में आराम
  • साँसों की बदबू से छुटकारा

Dosage of Ginger in Hindi- अदरक की खुराक

वयस्कों के लिए 1 दिन में अदरक की जड़ 4 ग्रा से ज्यादा नही।
2 से 6 साल तक के बच्चों के लिए अदरक की जड़ 2 ग्रा से ज्यादा नही।
गर्भवती महिलाओं के लिए अदरक 1 ग्रा से ज्यादा नहीं।

Side Effects of Ginger in Hindi- अदरक के नुकसान

बहुत सी चीजों की तरह अदरक भी तभी हानि करता है जब इसको जरूरत से ज्यादा खाया जाए। जरूरत से ज्यादा खाने पर इसके यह दुष्परिणाम हो सकते हैं।
  • ब्लड प्रेशर की दवाई के साथ खाने पर ब्लड प्रेशर को बहुत ज्यादा कम कर देता है।
  • इसकी वजह से दस्त लग जाते हैं।
  • खून पतला करने के गुण के कारण खून के लगातार बहने का कारण बनता है।
  • ब्लड शुगर को बहुत ज्यादा कम करती है।
  • गैस और अफारा की समस्या
  • हल्के से हार्ट बर्न का कारण
  • त्वचा और आंखों की जलन का कारण

Ginger Buying Guide in Hindi- अदरक खरीदने के लिए

अदरक बहुत तरीके के मिलते हैं। यहाँ हम आपको बताने जा रहे हैं कि आपको अदरक की सही चीजें कम कीमत पर कहाँ खरीदें।

Types of Ginger in Hindi- अदरक के प्रकार

  • ताज़ी जड़ के रूप में
  • सघन रूप में
  • शहद वाला अदरक का सिरप
  • अदरक के सत के कैप्सूल
  • अदरक की चाय
  • अदरक का एल

ध्यान देने योग्य बातें

  • दो साल से कम उम्र के बच्चों को अदरक नहीं दी जानी चाहिए।
  • आम तौर पर, वयस्कों को एक दिन में 4 ग्राम से ज्यादा अदरक नहीं लेनी चाहिए। इसमें खाना पकाने में इस्तेमाल किया जाने वाला अदरक शामिल है।
  • गर्भवती स्त्रियों को 1 ग्राम रोजाना से अधिक नहीं लेना चाहिए।
  • आप अदरक की चाय बनाने के लिए सूखे या ताजे अदरक की जड़ का इस्तेमाल कर सकते हैं और उसे रोजाना दो से तीन बार पी सकते हैं।
  • अत्यधिक सूजन को कम करने के लिए आप रोजाना प्रभावित क्षेत्र पर कुछ बार अदरक के तेल से मालिश कर सकते हैं।
  • अदरक के कैप्सूल दूसरे रूपों से बेहतर लाभ देते हैं।
  • अदरक खून पतला करने वाली दवाओं सहित बाकी दवाओं के साथ परस्पर प्रभाव कर सकती है।
  • किसी विशेष समस्या के लिए अदरक की खुराक की जानकारी और संभावित दुष्प्रभावों के लिए हमेशा डॉक्टर से संपर्क करें।

Post a Comment

0 Comments