झारखंडःसब्जी बेचने पर मजबूर नेशनल तीरंदाज, झारखंड सरकार ने दिए 20 हजार रुपये


    फोटो- ट्विटर साभार



  • सरकार की ओर से अन्य सहायता भी उपलब्ध कराने का भरोसा दिया गया
  • तीन बहनों में सबसे बड़ी सोनू के घर की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है
  • 18 वर्षीय सोनू ने 2011 में राष्ट्रीय स्कूल गेम्स में कांस्य पदक जीता था
  • सोनू ने कई राज्य और राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में हिस्सा लिया



धनबाद
बदहाल आर्थिक स्थिति के कारण सब्जी बेचने को मजबूर राष्ट्रीय स्तर की तीरंदाज सोनू खातून को झारखंड सरकार ने बुधवार को 20 हजार रुपये का चेक सौंपा। राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने धनबाद के उपायुक्त को सोनू खातून को जरूरी सहायता उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।


पुणे मे जीता था कांस्य पदक
बता दें कि सोनू ने कई राज्य और राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में हिस्सा लिया। वह टाटा आर्चरी अकैडमी में भी रही हैं। 2 साल पहले उनका धनुष टूट गया और उसके बाद सोनू की प्रैक्टिस छूट गई। सोनू के पिता मजदूर हैं और मां घरों में सफाई का काम करती हैं। कोरोना वायरस के बाद हुए लॉकडाउन के चलते उनकी नौकरी छूट गई और सोनू को सड़क पर बैठकर सब्जी बेचनी पड़ रही है।

Post a Comment

0 Comments