टेलीविजन का आविष्कार किसने और कब किया?

टेलीविजन का आविष्कार किसने और कब किया?




टेलीविज़न क्या है? (What is television)

चलिए सबसे पहले जानते है की टेलीविजन क्या है? तो आपको बता दें की टीवी, टेलीविजन, दूरदर्शन जैसे कई अलग-अलग नामो से बुलाये जाने वाले इस मनोरंजक यन्त्र में एक ऐसी दूरसंचार प्रणाली का प्रयोग किया जाता है जिसके द्वारा चलचित्र व ध्वनि को दो स्थानों के बीच प्रसारित किया जाता है।
टेलीविजन को हिंदी भाषा में दूरदर्शन के नाम से जाना जाता है। ग्रीक प्रीफिक्स ‘टेले’ (tele) और लैटिन वर्ड ‘विजीओ’ (visio) से मिलकर बना शब्द है टेलीविजन (Television), जिसका शाब्दिक अर्थ है दूर-दृष्टि अर्थात टेलीविजन।
साल 1900 में पेरिस में हुए वर्ल्ड फेयर के पहले ‘इंटरनेशनल कांग्रेस ऑफ इलेक्ट्रिसिटी’ में रशियन साइंटिस्ट कॉन्स्टेंटिन पर्सकेई ने पहली बार टेलीविजन शब्द का इस्तेमाल किया।
अमेरिका में टेलीविजन का लाइसेंस पहली बार 1928 में चार्ल्स जेनकिन्स को दिया गया।
भारत में टेलीविजन प्रसारण 15 सितम्बर 1959 को दिल्ली से शुरू हुआ और 1975 तक भारत के केवल सात शहरों में ही टेलीविजन सेवा शुरू हो पायी। इसके बाद भारत में कलर टीवी और राष्ट्रीय प्रसारण 1982 में शुरु हुआ।
टीवी (TV) के जिस रिमोट का एक बटन दबाते ही टी.वी. चालू हो जाता है, उस रिमोट कंट्रोल का आविष्कार यूजीन पोली ने किया था।
टेलीविजन के आविष्कार में शुरुआत में इनके नाम शामिल रहे- पोल निप्कोओ, बोरिस रोसिंग, व्लादिमीर ज्वोर्किन, जॉन लोगी बेयर्ड, फिलो फर्नसवॉर्थ, चार्ल्स फ्रांसिस जेनकिंस और विलियम बेल।

टेलीविजन के इतिहास से जुड़े रोचक तथ्य

आज टेलीविजन की खोज हुए 93 वर्ष बीत चुके हैं। इस दरम्यान कितनी ही नई प्रौद्योगिकी आई जो और उन्नत तकनीक के आने से पुरानी होती गई और खत्म हो गई लेकिन, टेलीविजन ही एक ऐसा इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है जो बदलते समय की कसौटी पर खरा उतरा है और आज भी पूरी दुनिया में किसी न किसी रूप में अपना स्थान बनाये हुए है।
1.)  लाॅगी बेयर्ड ने टेलीविजन पर पहली बार चित्र प्रसारित किया
लाॅगी बेयर्ड वे पहले इंसान थे जिन्होंने 2 अक्टूबर, 1925 को पहली बार टी.वी. पर एक अलग-अलग आवाज निकालने वाले काठ के पुतले की छवि को प्रसारित करके दुनिया को दिखाया था। जैसा कि आप ऊपर की तस्वीर में देख सकते है।
बेयर्ड अपने नये खोज को लेकर इतने उत्साही थे कि इसे दुनिया के सामने लाने के लिए वे सीधे Daily Express (इंग्लैंड में प्रकाशित होने वाला समाचार पत्र) के ऑफिस पहुंच गए। हालाँकि, वहां का संपादक उन्हें ऐसे उपकरणों के साथ देख काफी डर गया और अचानक अपने रिपोर्टर से कहा –
3.) द्वितीय विश्व युद्ध में बीबीसी ने 7 वर्षों के लिए प्रसारण बंद कर दिया था
द्वितीय विश्व युद्ध में इंग्लैंड के जर्मनी पर युद्ध घोषित करने से 2 दिन पहले बीबीसी ने अपना प्रसारण बंद कर दिया था। Mickey Mouse कार्टून बीबीसी पर प्रसारित होने वाला अंतिम प्रसारण था।
जब युद्ध खत्म हुआ और लगभग 7 वर्ष बाद 1946 में उसने पुनः प्रसारण प्रारम्भ किया तब BBC पर पहला प्रसारण उसी Mickey Mouse कार्टून का ही था!
पहले अमेरिकी टेलीविजन स्टेशन ने साल 1928 में काम करना शुरु कर दिया था और बीबीसी का प्रसारण 1930 में शुरू हुआ।
साल 1969 में 600 मिलियन लोगों ने चन्द्रमा पर पहले मानव लैंडिंग का लाइव प्रसारण देखा।
इस तरह टेलीविजन के रूपों में तेजी से बदलाव आते चले गए और अभी तो आगे भी टेलीविजन की दुनिया में ऐसे चौंकाने वाले बदलाव होने बाकी हैं।

टेलीविजन के बारे में कुछ रोचक तथ्य (tv ke rochak tathya)

  • जी टीवी भारत देश का सबसे पहला हिंदी निजी मनोरंजन चैनल है। जी टीवी की स्थापना 1 अक्तूबर तथा प्रसारण 2 अक्तूबर 1992 से शुरू हुआ था।
  • Aaj-Tak न्यूज चैनल भारत का सबसे पुराना निजी क्षेत्र का न्यूज़ चैनल है।
  • भारत का सबसे पुराना सरकारी न्यूज चैनल DD News है।
  • देश का सबसे बड़ा नेटवर्क समूह वाला चैनल ETV है।
  • कलर टीवी और राष्ट्रीय प्रसारण की शुरुआत भारत में सबसे पहले 1982 में हुई थी।
  • टेलीविजन के रिमोट कंट्रोल का अविष्कार यूजीन पोली (Eugene Polly) ने किया था।
  • पहला टीवी सैटेलाईट टेलस्टार था इसे 1962 में लॉन्च किया गया था।
आज टीवी मनोरंजन (Entertainment) का सबसे बड़ा साधन बन गया है और Black & White से शुरु होकर आकर आज 3D टीवी तक का सफर तय कर चुका यह टीवी हमारे Entertainment का सबसे बढ़िया साधन बन गया है। टीवी में सालो-साल लगातार कुछ ना कुछ बदलाव होते आ रहे है और यह पहले से कहीं ज्यादा बेहतर भी हो गए है जैसे की आज CRT टीवी की जगह LED टीवी ने ले ली है।
जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी की दुनिया बढ़ रही है हमें उम्मीद है की आगे भी इसमें कुछ ना कुछ बदलाव जरूर आयेंगे और ये टीवी और भी बेहतर बन जायेंगे।
उम्मीद है जागरूक पर टेलीविजन का आविष्कार किसने और कब किया (Television ka avishkar kisne kiya aur kab kiya) कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित होगी।

भारत में टेलीविजन का इतिहास (Doordarshan in India)

  • हमारे देश में टीवी प्रसारण का आरम्भ 15 सितंबर, 1959 को दिल्ली से हुआ था। इसे एक प्रयोगात्मक प्रसारण के रूप शुरू किया गया था, जिसे एक कम क्षमता वाले ट्रांसमीटर से दिल्ली के ही 21 कम्युनिटी टीवी सेट पर प्रसारित किया जाता था।
  • 1959 में इसे All India Radio की निगरानी में शुरू किया गया। जिस पर हर हप्ते एक-एक घंटे के दो कार्यक्रम दिखाये जाते थे। हर दिन 1 घंटे की समाचार-बुलेटिन की शुरूआत 1965 में कि गई।
  • मुंबई शहर में दूरदर्शन की शुरुआत 1972 में की गई तथा 1975 तक इसकी पहुंच देश के अन्य प्रमुख शहरों, जैसे – कोलकाता, चेन्नई, श्रीनगर, अमृतसर और लखनऊ तक हो गई।
  • 1976 में ‘दूरदर्शन’ को ‘ऑल इंडिया रेडियो’ से अलग कर एक स्वतंत्र प्रसारण संस्था का रूप दे दिया गया । ये आज मुलभूत सुविधाओं, जैसे स्टूडियो और ट्रांसमिटर कि संख्या के आधार पर विश्व की सबसे बड़ी टेलीविजन प्रसारण संस्था (broadcasting origination) है।
  • सन् 1982 में दूरदर्शन ने पहली बार 9वें एशियन गेम्स का सीधा प्रसारण उपग्रह INSAT 1A के माध्यम से पूरे देश में किया। यह दूरदर्शन के इतिहास में सबसे बड़ी उपलब्धि थी।

Post a Comment

0 Comments