प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना में मिलेगी और राहत, लॉकडाउन बढ़ाते हुए पीएम मोदी की घोषणा,Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana (PMGKY)

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना में मिलेगी और 
राहत, लॉकडाउन बढ़ाते हुए पीएम मोदी की घोषणा...

मंगलवार को सुबह 10 बजे प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी ने देश को एक बार फिर संबोधित किया. यह संबोधन पीएम मोदी ने 21 दिन से चल रहे लॉकडाउन के आखिरी दिन पर किया. इस दौरान प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से देश में लगने वाले लॉकडाउन को बढ़ाने की जानकारी दी. जनहित को ध्यान में रखते हुए इस लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ा दिया गया है.
ऐसा नहीं है कि माननीय नरेंद्र मोदी को देशव्यापी lockdown से आम जनता को होने वाली दिक्कतों की चिंता नहीं. किसान, दिहाड़ी मजदूर और अन्य वर्ग के लोगों को किसी भी परेशानी का सामना न करना पड़े, इसके लिए केंद्र सरकार की तरफ से कई कदम उठाए गए हैं. जनता को और अधिक फायदा मिले, इसके लिए कहीं पुरानी योजनाओं में ही बदलाव किए गए तो कहीं नए दिशा-निर्देशों के साथ योजनाओं को बेहतर बनाने की कोशिश की गई. इन्हीं योजनाओं में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना भी शामिल है.

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के बारे में पीएम मोदी ने कहा...

बढ़े हुए लॉकडाउन का ठीक तरह से पालन किए जाने का अनुरोध करते हुए प्रधानमंत्री ने जनता को यह भी आश्ववासन दिया कि गरीब कल्याण योजना को सरकार और भी बेहतर बनाने का प्रयास कर रही है. इससे लोगों को अधिक राहत मिलेगी. आपको बता दें कि अभी तक मोदी सरकार ने इस योजना के माध्यम से जरूरतमंदों की मदद के लिए हर कोशिश की है. यहां तक कि योजना के तहत नई गाइडलाइंस बनाते समय भी लोगों को ज्यादा से ज्यादा लाभ मिले, इसका बखूबी ध्यान रखा गया. इसी कड़ी में केंद्र सरकार (central government) अभी भी काम कर रही है.

अबतक 32 करोड़ से ज्यादा गरीबों को मिली 29,352 करोड़ रुपये की सहायता राशि

केंद्रीय वित्त मंत्रालय से मिली जानकारी के मुताबिक Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana (PMGKY) के तहत अभी तक देश के 32 करोड़ से भी ज्यादा जरूरतमंदों को 29,352 करोड़ रुपये की राशि मिल चुकी है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा गरीब कल्याण योजना की घोषणा की गई थी. योजना का उद्देश्य गरीबों और जरूरतमंदों को वैश्विक महामारी COVID-19 के खिलाफ जंग लड़ने के लिए राहत राशि उपलब्ध कराना था. इसके तहत 1.7 लाख करोड़ का पैकेज पेश किया गया था.

Post a Comment

0 Comments